वचन किसे कहते हैं ? वचन के कितने प्रकार हैं ? | What is Vahan? What are the type of vachan?


वचन किसे कहते हैं  ? वचन के कितने प्रकार हैं ? | What is Vahan? What are the type of vachan?

वचन

संज्ञा, सर्वनाम, विशेषण और क्रिया के जिस रूप से संख्या का बोध हो, उसे 'वचन' कहते है।

जैसे- तालाब में मछलियाँ तैर रही हैं।
माली पौधे सींच रहा है।

वचन दो प्रकार के होते है-

1. एकवचन
2. बहुवचन

1. एकवचन

शब्दों के जिस रूप से एक वस्तु का बोध होता है, उसे एकवचन कहते हैं।
उदाहरण:-
जैसेस्त्री, घोड़ा, नदी, रुपया, लड़का, गाय, सिपाही, बच्चा, कपड़ा, माता, माला, पुस्तक, टोपी, बंदर, मोर आदि।

2. बहुवचन

शब्द के जिस रूप से एक से अधिक व्यक्ति या वस्तु होने का ज्ञान हो, उसे बहुवचन कहते है।
उदाहरण:-
जैसे- स्त्रियाँ, घोड़े, नदियाँ, रूपये, लड़के, गायें, कपड़े, टोपियाँ, मालाएँ, माताएँ, पुस्तकें, वधुएँ, गुरुजन, रोटियाँ, लताएँ, बेटे आदि।

v  विशेष-

(i) आदरणीय व्यक्तियों के लिए सदैव बहुवचन का प्रयोग किया जाता है। जैसे- पापाजी कल मुंबई जायेंगे।
(ii) द्रव्यसूचक संज्ञायें एकवचन में प्रयोग होती है। जैसे- पानी, तेल, घी, दूध आदि
(iii) संबद्ध दर्शाने वाली कुछ संज्ञायें एकवचन और बहुवचन में एक समान रहती है। जैसे- ताई, मामा, दादा, नाना, चाचा आदि।
(iv) कुछ शब्द सदैव बहुवचन में प्रयोग किये जाते है जैसे- दाम, दर्शन, प्राण, आँसू आदि।

ü  समान्यत: एक संख्या के लिए एकवचन और अनेक संख्याओं के लिए बहुवचन का प्रयोग होता है|
ü  कभी-कभी एक के लिए बहुवचन और अनेक के लिए एकवचन का प्रयोग होता है |

Post a Comment

6 Comments

  1. Helo sir good Information to your post . I love this article . Thank you sir

    ReplyDelete
  2. This comment has been removed by a blog administrator.

    ReplyDelete
  3. Sir do you provide science knowledge also???
    Please tell

    ReplyDelete